-/1
dainik khabar
Published 08/03/2024 - 3 months ago
₹20.00
Location
India
Category
Description

आखिर क्यों होटल और रेलगाड़ियों में बिछाई जाती हैं White Bedsheets, लोग भी करते हैं मांग?

White Bed Sheets: आप ने कभी सोचा है जब भी आप कहीं बाहर जाते हैं घूमने या कोई मीटिंग अटेंड करने उस समय आप अपने लिए होटल रूम बुक करते हैं। तब आपने उस दौरान एक बात नोटिस की होगी और देखा भी होगा। होटल में हमेशा बेड पर सफेद चादर ही बिछी दिखाई देगी। लेकिन कभी भी आपके जहन में यह सवाल आया है कि सफेद चादर ही क्यों? किसी और रंग की चादर यह होटल वाले क्यों नहीं बिछाते?

सफेद रंग ही क्यों?

दरउसल होटल के आलावा जब हम कभी ट्रेन के ए.सी डिब्बे में सफर करते हैं उस दौरान यात्रियों को ओढ़ने के लिए भी सफेद चादर ही दी जाती हैं। यहां पर भी एक ही सवाल जहन में आता है सफेद ही क्यों?

Also Read: Gold-Silver Price: सोने-चांदी की कीमतों में आई गिरावट, जानें क्या है आपके शहर में कीमत?

तनाव हरता है सफेद रंग

बता दें कि श्वेत रंग को हमेशा से ही तनाव मुक्त रंग कहा जाता है। यह सफेद रंग तनाव को हरता है। इस रंग को देखने भर से मन शांत हो जाता है और दिल को एक दम रिलैक्स वाली फीलिंग का एहसास होता है। इसलिए जब भी हम होटलों के कमरे में जाते हैं तो वहां पर सफेद रंग को देखकर एकदम सकारात्मक वाइब्स आती है। इसी वजह से होटल और ट्रेनों में सफेद रंग को देखकर किसी भी व्यक्ति को अच्छा महसूस होता है जिससे उसे नदीं भी अच्छी आती है।

साफ-सफाई की देन

इसके अलावा सफेद चादर पर हर दाग-धब्बे भी आसानी से दिखाई दे जाते हैं। क्योंकि हम जब भी किसी होटल में जाते हैं तो वहां सबसे पहले यही देखते हैं कि कमरों में साफ-सफाई है या नहीं। अगर वहां गंदगी होती है तो फिर दोबारा हम वहां नहीं जाते और सफेद चादर देखकर हमें साफ-सफाई का पता चल जाता है। होटल वाले भी इसी साफ-सफाई की वजह से अपने रूम रेट में इजाफा कर देते हैं। लोगों को भी सफाई चाहिए जिस वजह से लोग महंगे से महंगा रूम खरीद लेते हैं।

वेस्टर्न कल्चर की देन

बता दें कि होटलों में सफेद चादर का इस्तेमाल सबसे पहले वेस्टर्न में किया गया था। इससे साफ पता चलता है कि यह वेस्टर्न कल्चर की देन है, जिसे धीरे-धीरे अब ज्यादातर देशों में अपनाया जा रहा है। वहीं सफेद रंग को शुभ माना जाता है।